पीएम मोदी महात्मा गांधी का सपना था कांग्रेस को बिखेर देना, अब कर्नाटक की बारी

पीएम मोदी महात्मा गांधी का सपना था कांग्रेस को बिखेर देना, अब कर्नाटक की बारी

पीएम मोदी महात्मा गांधी का सपना था कांग्रेस को बिखेर देना, अब कर्नाटक की बारी। कर्नाटक विधानसभा चुनाव का प्रचार अंतिम दौर में है और तीखे वार-पलटवार की शुरुआत हो चुकी है। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य में चुनावी कैंपेन का आगाज करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राज्य की कांग्रेस सरकार पर हमला बोला। प्रधानमंत्री ने कर्नाटक की कांग्रेस सरकार पर ‘ईज ऑफ डूइंग मर्डर’ की संस्कृति विकसित करने का आरोप लगाया। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र की पहले की कांग्रेस सरकारों ने बैंकों को लूटने की खुली छूट दे दी थी जबकि गरीबों को लोन नहीं दिए गए।

पीएम मोदी महात्मा गांधी का सपना था कांग्रेस को बिखेर देना, अब कर्नाटक की बारी

पीएम ने कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस को बिखेरना महात्मा गांधी का सपना था, सभी राज्यों ने ऐसा किया है और अब कर्नाटक की बारी है। पीएम ने कहा कि कर्नाटक ने कांग्रेस को सजा देने का मन बना लिया है। कर्नाटक के उडुपी में रैली को संबोधित कर रहे पीएम मोदी ने कहा कि इस बार कर्नाटक की जनता ने कांग्रेस को हराने का इरादा कर लिया है।

पीएम मोदी महात्मा गांधी का सपना था कांग्रेस को बिखेर देना, अब कर्नाटक की बारी

मोदी ने कहा, ‘मैं आप लोगों की तपस्या को बेकार नहीं जाने दूंगा, आपने जो प्यार दिया है उसे मैं सवाया करके वापस करूंगा।’ उन्होंने कहा, ‘राजनीतिक मतभेद के कारण बीजेपी के कार्यकर्ताओं की हत्या की गई, कर्नाटक के लोगों की आवाज उठाने वाले कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार दिया गया। कांग्रेस सरकार में अपराधियों का बोलबाला है और इस सरकार से मुक्ति पाना जरूरी है।

राहुल पर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा, ‘राजनीति में मतभेद होते हैं लेकिन सामाजिक जीवन में कुछ मर्यादाएं होती हैं। देवगौड़ा जब भी दिल्ली आए और समय मांगा, मैं उनसे मिला। जब वह घर आते हैं तो खुद उनकी गाड़ी का दरवाजा खोलता हूं। राजनीतिक दृष्टि से वह मेरा विरोध करते हैं, हमारे खिलाफ वोट करते हैं लेकिन वरिष्ठ नेता होने के नाते हम उनका सम्मान करते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने उनके लिए अपने भाषणों में जिस तरह की भाषा का प्रयोग किया है वह शर्मनाक है, उनका जीवन अभी शुरू हुआ है, जबकि देवगौड़ा वरिष्ठ हैं।

पीएम मोदी महात्मा गांधी का सपना था कांग्रेस को बिखेर देना, अब कर्नाटक की बारी

पीएम ने कांग्रेस को लेकर कहा, ‘इनका मिजाज ऐसा है, इनका अहंकार बहुत ज्यादा है और ऐसे अहंकारी लोग लोकतंत्र के लिए खतरा होते हैं। कर्नाटक पर महात्मा गांधी का सपना पूरा करने का दायित्व है। गांधी जी का सपना था कि कांग्रेस को बिखेर दो, देश के जिन राज्यों में लोगों को मौका मिला उन्होंने कांग्रेस को हार का मुंह दिखाया। अब कर्नाटक की बारी है। अपराध को मुद्दा बनाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हिंसा, अत्याचार, कानून व्यवस्था में कोताही कांग्रेस सरकार की पहचान हैं। कर्नाटक में बेटियों पर जुल्म हुए हैं, सोशल मीडिया पर लोगों ने जानकारियां पहुंचाई हैं वह चौंकाने वाली हैं। बेटियों की रक्षा के लिए हमारी सरकार ने बड़ा फैसला किया है। अब बलात्कारियों को फांसी तक पहुंचाया जाएगा। हम निर्णय करते हैं तो उसे लागू करके ही रहते हैं।

पीएम मोदी महात्मा गांधी का सपना था कांग्रेस को बिखेर देना, अब कर्नाटक की बारी

उन्होंने कहा, ‘कर्नाटक में सैंड माफिया ने अपने हाथ पैर पसारे हैं। जो आपकी बालू भी लूट जाते हैं वह आपका कुछ बचने देंगे क्या? कर्नाटक को बचाने का यही एक मौका है।’ पीएम ने रोजगार को लेकर कहा, ‘क्या उडुपी के आस-पास विकास कर लोगों को रोजगार नहीं दिया जा सकता है? लेकिन यह सरकार ऐसी है कि वे कभी भी इस परिवर्तन के पक्ष में नहीं रहते। उनकी तो आदत है अटकाना और लटकाना।’ पीएम ने भाषण के अंत में कन्नड़ में जनसमूह का अभिवादन किया।

शिल्पा शेट्टी को खाने में पसंद आया कोलंबो का केकड़ा, ये है पसंदीदा फूड लिस्ट

वायरल VIDEO देखिये तौलिए में डांस कर रही थी ये एक्ट्रेस, फिर हुआ कुछ ऐसा

दीपिका कक्कड़ और शोएब इब्राहिम ने मुंबई में दिया शादी का ग्रैंड रिसेप्शन

दीपिका पादुकोण में 3 अभिनेत्रियों की झलक दिखाई देती है संजय लीला भंसाली

ताजातरीन खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें

हिन्दी खबरों से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Google Play Store सें ⇒⇒⇒ MdssHindiNews (App)

दोस्तों संग शेयर करें
Share on Facebook
Facebook
Share on Google+
Google+
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on LinkedIn
Linkedin
Pin on Pinterest
Pinterest
Share on Tumblr
Tumblr

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *