इतनी जल्दी अरविंदर सिंह लवली ने क्यों छोड़ा बीजेपी का दामन जानिये पूरी खबर

इतनी जल्दी अरविंदर सिंह लवली ने क्यों छोड़ा बीजेपी का दामन जानिये पूरी खबर

इतनी जल्दी अरविंदर सिंह लवली ने क्यों छोड़ा बीजेपी का दामन जानिये पूरी खबर।आखिर बीजेपी में क्यों ‘फिट’ नहीं हो पाए पूर्व मंत्री अरविंदर सिंह लवली! काफी समय से एक अदद सिख चेहरे को तलाश रही बीजेपी के लिए यमुनापार का यह दिग्गज नेता ‘ट्रंप कार्ड’ साबित हो सकता था, लेकिन ‘संगठन’ को देख रहे लोग लवली को संभाल नहीं पाए। लवली के करीबी बताते हैं कि उनकी कांग्रेस में वापसी के पीछे यही एक बड़ी वजह रही। दरअसल दिल्ली बीजेपी के कुछ नेता और पदाधिकारी लवली को लगातार यह जताने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे थे कि वो बाहरी हैं, लिहाजा उनकी यहां दाल गलने वाली नहीं है। पिछले 10 महीने के दौरान उन्हें ‘गैर-जिम्मेदार’ ही माना गया, इसलिए कोई काम नहीं सौंपा गया। हालांकि उन्हें पार्टी की अहम बैठकों में जरूर बुलाया जाता था, लेकिन वहां भी उनकी बात को ज्यादा तरजीह नहीं मिलती थी। बीजेपी में उन्हें अपने राजनीतिक भविष्य की तस्वीर भी साफ नहीं दिख रही थी। बहरहाल, बीजेपी में एक ऐसा वाकया हुआ, जिसने लवली को अंदर तक झकझोर दिया। इस दौरान संयोग से कांग्रेस लीडरशिप की तरफ से उनकी ‘घर वापसी’ की पहल बड़े स्तर पर की गई तो उन्होंने भी ‘हाथ’ को लपकने में बिल्कुल देरी नहीं की।

इतनी जल्दी अरविंदर सिंह लवली ने क्यों छोड़ा बीजेपी का दामन जानिये

इतनी जल्दी अरविंदर सिंह लवली ने क्यों छोड़ा बीजेपी का दामन जानिये पूरी खबरसूत्रों के मुताबिक, पिछले हफ्ते बीजेपी की एक मीटिंग के दौरान अपनी अवहेलना से लवली काफी आहत हुए और उन्होंने तभी बीजेपी को बाय-बाय करने का फैसला कर लिया। हुआ यह कि बीजेपी दिल्ली सरकार के खिलाफ बड़े स्तर पर आंदोलन की प्लानिंग कर रही थी और लवली को तत्काल प्रदेश मुख्यालय बुलाया गया। उन्हें बताया गया कि पार्टी दिल्ली सरकार की नाकामियों का एक ‘श्वेत पत्र’ जारी करेगी, जिसे तैयार करने में उनके सहयोग की दरकार है। इस मीटिंग में पार्टी अध्यक्ष मनोज तिवारी के अलावा विधानसभा में विपक्ष के नेता, पार्टी के एक पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, तीनों महामंत्री और संगठन मंत्री को भी रहना था। लेकिन जब लवली प्रदेश मुख्यालय पहुंचे तो वहां सिर्फ दो महामंत्री और संगठन मंत्री के अलावा कोई नहीं था।

इतनी जल्दी अरविंदर सिंह लवली ने क्यों छोड़ा बीजेपी का दामन खबर

लवली को बाद में पता चला कि प्रदेश अध्यक्ष को तो इस अहम मीटिंग की जानकारी तक नहीं थी। विधानसभा में विपक्ष के नेता भी देर से आए। संगठन मंत्री लवली को यह कहकर चलते बने कि अभी वह दोनों महामंत्रियों से चर्चा कर ‘श्वेत पत्र’ का मसौदा तैयार कर लें, बाद में उस पर अन्य वरिष्ठ नेताओं की भी राय ले ली जाएगी। लवली को जिन दो महामंत्रियों के साथ मीटिंग के लिए छोड़ा गया था, राजनीतिक कद और अनुभव के मामले में वे दोनों लवली के सामने कहीं नहीं ठहरते हैं। इससे लवली काफी आहत हुए और किसी तरह जल्द ही मीटिंग निपटाकर वहां से निकल गए। सूत्रों के मुताबिक उन्हें इस बात से भी झटका लगा कि प्रदेश अध्यक्ष और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की सलाह लिए बिना ही अहम मीटिंग्स हो रही थीं। बस तभी, लवली ने बीजेपी छोड़ने का मन बना लिया था। बहरहाल, बीजेपी नेताओं ने कहा कि यह कोई ऐसा मुद्दा नहीं था, जिससे उनके पार्टी छोड़ने की नौबत आ गई।

करण कुंद्रा ब्रेकअप की वजह से मुश्किलों का सामना कर रहें है जानिये खबर

शिल्पा शिंदे भाभी जी विवाद में मुझे डराने की कोशिश की गई जानिये पूरी खबर

सोनाक्षी सिन्हा का ‘वेलकम टू न्यूयॉर्क ‘ से जुड़ा ये बड़ा राज आया सामने देखिये

ताजातरीन खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें

आप से विनम्र अनुरोध है कि आर्टिकल पर लाइक और कमेंट करना ना भूले और नीचे दिए कमेंट बॉक्स में अपनी राये दे साथ ही हमे फॉलो करना ना भूले जिससे आप हमारे आने वाले आर्टिकल से जुड़े रहें

दोस्तों संग शेयर करें
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on LinkedIn
Linkedin
Pin on Pinterest
Pinterest
Share on Tumblr
Tumblr

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *