2500 अंक टूटा सेंसेक्स चार दिनों में पढ़िए आपके मन में आने वाले हर सवाल का जवाब

2500 अंक टूटा सेंसेक्स चार दिनों में पढ़िए आपके मन में आने वाले हर सवाल का जवाब

2500 अंक टूटा सेंसेक्स चार दिनों में पढ़िए आपके मन में आने वाले हर सवाल का जवाब। आम बजट 2018 के पेश होने से अब तक लागातर चार सत्रों में भारतीय शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है। इन बीते चार सत्रों में सेंसेक्स करीब 2500 अंक तक टूट चुका है। ऐसे में फिनेथिक वेल्थ सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और निदेशक विवेक कुमार नेगी से बातचीत के दौरान उनसे उन सावलों के जवाब जानने की कोशिश की जो वर्तमान समय में तमाम निवेशकों के मन में चल रहे हैं।

2500 अंक टूटा सेंसेक्स चार दिनों में पढ़िए आपके मन में आने वाले हर सवाल का जवाब आम बजट 2018

विवेक नेगी का मानना है कि भारतीय शेयर बाजार में गिरावट अभी जारी रह सकती है। साथ ही बाजार कोर वैल्यू तक आने तक की कोशिश करेगा जो कि सेंसेक्स 31500 से 31000 तक के स्तर पर आ सकता है। वहीं निफ्टी के 9500 के स्तर तक आने की उम्मीद है।भारतीय शेयर बाजार में गिरावट के पीछे का मुख्य कारण उन्होंने बताया कि ग्लोबल मार्केट एकसपेंसिव इवैल्यूएशन के चलते यह बिकवाली दर्ज की जा रही है। उन्होंने दूसरी वजह यह बताई है कि सरकार की ओर से पेश किया गया आम बजट 2018 देश और अर्थव्यवस्श्था दोनों के लिए अच्छा नहीं है। बजट में जो लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन (LTCG) के प्रावधान की घोषणा की गई है वो बाजार के लिहाज से नकारात्मक हैं। वहीं तीसरा कारण उन्होंने बाताया है कि ग्लोबाल मार्केट में जो करेक्शन आ रहा है वह भी एक भारतीय बाजार में आने वाली गिरावट का एक प्रमुख कारण है।

2500 अंक टूटा सेंसेक्स चार दिनों में पढ़िए आपके मन में आने वाले हर सवाल का जवाब

जो कंपनिया बुनियादी रूप से मजबूत हैं वो बाजार में निवेशकों को अवसर देते हैं। अगर आपने अच्छी कंपनियों में निवेश किया हुआ है तो कम से कम दो से तीन वर्षों तक आपको बाजार में बने रहना चाहिए। लेकिन वहीं, अगर आपने ऐसी कंपनियों में निवेश किया हुआ है जो बुनियादी रूप से कमजोर हैं तो आपको बाजार से तुरंत बाहर आ जाना चाहिए।

2500 अंक टूटा सेंसेक्स चार दिनों में पढ़िए आपके मन में आने वाले हर सवाल का जवाब

बाजार के लिहाज से जो बड़े लेवल हैं वो सेंसेक्स के लिए 33,000 का स्तर और निफ्टी के लिए 10,200 का स्तर है। ये लेवल बहुत बड़ें हैं और इन्हें शॉर्ट टर्म बाउंस के लिए देखा जा सकता है। अगर बाजार की इस गिरावट में खरीदारी करना चाहते हैं तो ऐसे सेक्टर में करें तो फंडामेंटली (बुनियादी रूप से) बहुत अच्छे हो। साथ ही उन कंपनियों में जिनमें सरकार ने आम बजट 2018 में फोकस किया है। इसमें सबसे पहला कृषि आधारित और किसानों से संबंधित क्षेत्र हैं। जैसे टैक्टर्स और फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स की कंपनी हो सकती है। इसके बाद उन कंपनियों में खरीदारी कर सकते हैं जो फूड प्रोसेसिंग से संबंधित है क्योंकि सरकार ने बजट में फूड प्रोसेसिंग कंपनियों पर फोकस किया है।

2500 अंक टूटा सेंसेक्स चार दिनों में पढ़िए आपके मन में आने वाले हर सवाल का जवाब

इस गिरावट में सबसे ज्यादा नुकसान बैंकिंस सेक्टर में ही देखने को मिला है। साथ ही ऑटो सेक्टर में भी करेक्शन देखने को मिली है। वहीं, बाजार में मिडकैप इंडेक्स और स्मॉसकैप इंडेक्स में तो काफी समय से बिकवाली देखने को मिल रही है। सबसे पहले तो भारतीय रिजर्व बैंक की क्रेडिट पॉलिसी आ रही है। ऐसे में क्रेडिट पॉलिसी का आउटकम बाजार की दिशा तय कर सकता है। दूसरा ट्रिगर कंपनियों की ओर से चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के नतीजे जारी किये जा रहे हैं। इन कंपनियों के नतीजे किस तरह के आते हैं इस पर बाजार निर्भर करेगा। वहीं तीसरा ट्रिगर यह है कि ग्लोबाल मार्केट किस तरह ट्रेड करते हैं उनका कैसा रवैया रहने वाला है यह भी एक देखने वाली बात होगी।

बॉलीवुड और हॉलीवुड से जुडी चटपटी और मज़ेदार खबरे, फ़िल्मी स्टार की जिन्दगी से जुडी बातें, आपकी पसंदीदा सेलेब्रिटी की फ़ोटो, विडियो और खबरे पढ़े MDSS हिंदी न्यूज़ पर

शिल्पा शिंदे भाभी जी विवाद में मुझे डराने की कोशिश की गई जानिये पूरी खबर

सोनाक्षी सिन्हा का ‘वेलकम टू न्यूयॉर्क ‘ से जुड़ा ये बड़ा राज आया सामने देखिये

ताजातरीन खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें

आप से विनम्र अनुरोध है कि आर्टिकल पर लाइक और कमेंट करना ना भूले और नीचे दिए कमेंट बॉक्स में अपनी राये दे साथ ही हमे फॉलो करना ना भूले जिससे आप हमारे आने वाले आर्टिकल से जुड़े रहें

दोस्तों संग शेयर करें
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on LinkedIn
Linkedin
Pin on Pinterest
Pinterest
Share on Tumblr
Tumblr

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *